No icon

पटना शेल्टर होमः मनीषा दलाल का राजनीति कनेक्शन, इस नेता के साथ तस्वीर वायरल

बेटियों की सुरक्षा के नाम पर खोली गई संस्थाओं में भी देश की बेटियां सुरक्षित नहीं हैं।  मुजफ्फरपुर के एक शेल्टर होम में रेप कांड के बाद पटना के एक शेल्टर होम में संदिग्ध स्थितियों में 2 लड़कियों की मौत का मामला सामने आया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है और शेल्टर होम के संचालक चिरंतन कुमार और सेक्रेटरी मनीषा दयाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस शेल्टर होम को अनुमाया ह्यूमन रिसोर्स फाउंडेशन नाम से जाना जाता है। मनीषा दयाल खुद को इस एनजीओ की डायरेक्टर बताती थीं।

बता दें कि मनीषा दयाल सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहती थीं और अपनी एनजीओ की एक्टिविटी लगातार शेयर कर रही थीं। मनीषा तस्वीरें भी शेयर किया करती थीं, एक फोटो में वह जेडीयू नेता श्याम रजक के साथ भी नजर आ रही हैं। हालांकि, खुद श्याम रजक ने मनीषा के एनजीओ के साथ किसी तरह के संबंध से इनकार किया है।  बताया जा रहा था कि शेल्टर होम की दोनों लड़कियों को पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (पीएमसीएच) में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हो गई। वहीं, अस्पताल प्रशासन का कहना है कि शेल्टर होम से लड़कियां मृत अवस्था में लाई गई थीं। हैरानी की बात तो यह कि लड़की के पोस्टमार्टम के बाद एक का तो अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। पुलिस को इसकी जानकारी समय रहते नहीं दी गई। 

Comment As:

Comment (0)